महनत की कमाई: रोचक छोटी कहानीं

महनत की कमाई रोचक प्रेरक कहानीं


अपनी कमाई को कोई भी कुएँ मे नहीं फेंक सकता

यह कहानी हैं  पिता और बेटे की , बेेटा ने कभी कमाना नही सीखा था। इसलिए बेेटे केे साथ कुछ ऐसा करना पडा।

एक शहर मे  एक बिजनेसमैन का परिवार रहता था। जिसमे उसका एकलोता लडका भी था। जो बहुत ही खर्चे करता था। नये फोन नयी गाडी और बहुत कुछ जिसका वो सोकीन था खरीदता रहता था। एक दिन पिताजी को गुस्सा आ गया कि तुम कुछ करते नही हो और बहुत ज्यादा पैसे खर्च करते रहते हो। ऐसा करो आज तुम बाहर जाओ और कुछ भी करो कैसे भी करो पैसे कमा कर लेकर आना अगर ऐसा नहीं हुआ तो तुम्हारा घर आना मना है। बाहर ही रहना, कही भी। 

लडका परेशान हो गया और अपनी मां से बोला कि पापा ने कहा है कि बाहर जाओ और पैसे कमा कर लेकर आना नही तो घर मे आना मना है मैं क्या करू मां से बोला। मां ने कहा कि ये 200 रूपये है इन्हें शाम में अपने पापा को दे देना। पिताजी शाम में घर आये और लडकें से कहा कि क्या कमा कर लाये हो। लडके ने तुरन्त अपनी जेब से 200 रूपये निकाले और पिताजी को देने लगा तो पिताजी ने बेटे से कहा कि इन पेसौ को बाहर कुऐं मे फेंक आओ।

लडके ने ऐसा ही किया। पिताजी समझ गये कि पेसै इसकी मां ने दिये हैं। अगले दिन फिर से पिताजी ने लडके से वहीं बात दोहराई कि कमा कर लेकर आना है नही तो घर मत आना। और उस दिन उसकी मां को भी उसके पीहर भेज दिया। लडका परेशान कि कल तो मां ने पैसे दे दिये थे लेकिन आज क्या करूँ आज तो मां भी नहीं है। तो लडका अपनी बहन के पास गया और सारी बात बताई तो बहन ने भी उसे 300 रूपए दे दिये और कहा शाम को पापा को दे देना। शाम को पापा घर आये लडके से पुछा क्या कमा कर लाये हो।

लडके ने 300 रूपये निकाले और पिताजी को देने लगा। पिताजी ने फिर यही दोहराया कि बाहर कुऐं मे फेक आऔ। लडका गया और पेसै कुऐ मे डाल आया। पिताजी फिर समझ गये कि पैसे अपनी बहन से लेकर आया हैं। अगले दिन लडकी को उसके ससुराल भेज दिया। और लडके से फिर पेसै कमा कर लाने को  कहा। लडका परेशान हो गया उसे आज कुछ उपाय नहीं सूझ रहा था। लडका बाहर गया नौकरी की तलाश मे लेकिन नौकरी नहीं मिली बाद मे एक दुकानदार के यहाँ एक काम मिला ट्रक से सामान उतार कर दुकान में अन्दर रखना था। लडके ने सोचा कोई और काम है नही तो इसे ही कर लेता हूँ।

लडका काम मे लग गया शाम में काम पूरा हुआ दुकानदार ने 200 रुपये दे दिये। लडका घर आया पिताजी ने पूछा क्या लेकर आये हो । लडके ने 200 रूपये दिये पिताजी ने कहा बाहर कुएँ मे डाल दो। लडके को गुस्सा आ गया बोला पिताजी मेने इतनी महनत करके ये पेसै कमाये है और आप बोल रहे है कि इन्हें कुएँ मे डाल दूं मैं ऐसा नही कर सकता। पिताजी को आज पूरा यकीन हो गया कि उसका बेटा आज महनत से पैसे कमा कर लाया है। और बेटे को गले लगा लिया।

दोस्तों इस कहानी से पता चलता है कि जब आप महनत करके पैसे या कोई चीज प्राप्त करते है तो आप उसे इतनी आसानी से खोना नहीं चाहते है। और जब आपके पास  महनत के बगैर ही पैसे या कोई चीज हो तो आप उसे आसानी से फेक देते हैं।
कैसी लगी आपको ये कहानी हमें कमेंट करके जरूर बताए।
धन्यवाद!

Related Posts:




Post a Comment