सकारात्मक सोच की शक्ति प्रेरक कहानीं, सकारात्मक सोच की अद्भुत शक्ति छोटी प्रेरणादायक कहानीं।

सकारात्मक सोच की शक्ति प्रेरक कहानीं


हमेशा पॉजिटिव सोचो कामयाबी जरूर मिलेगी

अगर लडना हैं तो अपनी सोच से लडो क्योंकि अपनी सोच से हार गये तो फिर आपके पास कितने भी अच्छे हथियार क्यों न हो वो भी आपको जीत नही दिला सकते
बार एक छोटे राज्य का राजा था जिसके ऊपर एक बडे राज्य के राजा ने आक्रमण कर दिया पहले दिन छोटे राज्य के राजा जिसकी सेना ने केवल अपना बचाव ही किया शाम हो गयी राजा ने आपने सेनापति से कहा कि आज हमने केवल अपना बचाव किया है लेकिन कल हम आक्रमण करेंगे सेनापति ने यह बात अपने सेनिको को बताई
सैनिकों को डर लगने लगा कि हमारे पास तो कम सैनिक हैं और प्रतिद्वंदी के पास ज्यादा सँख्या मे सैनिक है तो हम कैसे जीत सकते हैं अगले दिन सुबह के समय राजा ने कहा कि आज हमारा भाग्य ये सिक्का तय करेगा अगर सिक्के मे हेड आया तो आज जीत हमारी होगी और अगर टेल आया तो हमारी हार होगी राजा ने सिक्का उछाला तो उसमें हेड आया

सकारात्मक सोच की शक्ति

यह देखकर सभी खुश हुये और कहने लगे कि आज तो हमारी जीत पक्की हैं सभी सैनिकोंं मे ऊर्जा आ गयी युद्ध होने लगा और छोटे राज्य की सेना जीत गयी सभी सैनिकोंं ने राजा से कहा कि अगर सिक्के मे हैड नही आता तो हम जीत नही पाते

इतने मे राजा सैनिकों को समझाने के लिए कि हमारी हार या जीत हमारी सोच पर निर्भर होती हैं राजा ने वही सिक्का सभी सैनिकों को दिखाया तो सिक्के के दोनो तरफ हैड ही छपा था।

दोस्तों इस छोटी सी कहानी से हमको सीखने को मिलता है कि हमारी हार और जीत हमारी सोच पर ही निर्भर होती हैं  हमें हमेशा पॉजिटिव सोचना चाहिए अगर हम पॉजिटिव  सोचेगे तो हमें अपनी मंजिल को पाने के लिए ऊर्जा मिलेगी और अगर हम नेगेटिव सोचेंगे तो हम अपनी मंजिल नहीं पा सकते हैं।

कैसी लगी आपको ये कहानी हमे कमेंट करेंं और शेयर जरुर करे
धन्यवाद!

यह भी पढेंं




Post a Comment